Shayari

सफ़र मे मुश्किले आये तो जुर्रत्त और बढती है,
कोई जब रास्ता रोके तो हिम्मत और बढती है!
और जरुरत में अजीजो, की जो कुछ काम आ जाओ,
तो रकम भी डूब जाती है, अदावत और बढ़ती है

Advertisements